17 जनवरी 2014

अहले सितम मश्क़े सितम करते रहेंगे


कोई टिप्पणी नहीं: