17 फ़रवरी 2013

मोहम्मद मुर्तज़ा (नब्बन चचा ) का ज़ख्म मुन्दमिल हो रहा है

एक माह से ज़ेरे  इलाज जनाब नब्बन चचा अब आहिस्ता आहिस्ता अब बा सेहत हो रहे हैं।
उनका ज़ख़्मी अंगूठा अब भरना शुरू हो गया है। रेलवे के जगजीवन अस्पताल से कोई फ़ाएदा न होने पर उन्हों  ने मीरा रोड के भक्ती वेदांता से रुजू किया है जो मुफ़ीद साबित हो रहा है।
आपसे गुज़ारिश है की उनके जल्द सिहत याबी के लिए  दुआ करें।

कोई टिप्पणी नहीं: